Choose Language:

लैक्टोज तब नही पचता है जब छोटी आंत पर्याप्त मात्रा में उस एंजाइम का उत्पादन नहीं करती है जिसे लैक्टेज कहते हैं। आपके शरीर में लैक्टोज (दुग्ध उत्पादों में पाए जाने वाली शर्करा) को तोड़ने या पचाने के लिए लैक्टेज की आवश्यकता होती है।

लैक्टोज न पचने की समस्या आम तौर पर व्यक्तियों में आयु बढ़ने के साथ उत्पन्न होती है। लोग अपनी किशोरावस्था या वयस्कता (उम्र 30 से 40) के दौरान लैक्टोज न पचने की समस्या का सामना करने लगते हैं। आम तौर पर, लैक्टोज न पचने की समस्या अनुवांशिक होती है और परिवार के जीन से संबंधित होती है। लैक्टोज न पचने की समस्या संक्रमण, किमोथेरेपी, पेनिसिलिन रिएक्शन, सर्जरी, गर्भावस्था या लंबे समय तक दुग्ध उत्पाद न खाने के कारण भी हो सकती है। इसके अतिरिक्त, विशिष्ट जाति के दूसरों की तुलना में लैक्टोज पाचन न होने की समस्या की संभावना अधिक होती है।

दुर्लभ अवसरों में, नवजात शिशु लैक्टोज–पाचन न होने की समस्या का सामना करते हैं। आम तौर पर नवजात शिशुओं में यह समस्या आयु बढ़ने के साथ समाप्त हो जाती है।